विषाणु संक्रमण : हमारा व्यवहार एवं सावधानी

आज सम्पूर्ण विश्व कोरोना महामारी झेल रहा है। जीवन में गतिहीनता आ गयी है। चतुर्दिक् भय का वातावरण है। विश्व के समस्त देश कोरोना के संक्रमण से अपने नागरिकों को बचाने का प्रयास कर रहे […]

परवल हृदय के लिए हितकारक

परवल (पटोल)/पटल) सभी स्थानों पर उपलब्ध एवं सर्वप्रिय शाक है। इसकी सब्जी प्रायः सभी घरों में बनती है। इसकी मिठाई भी बनायी जाती है। कुछ लोग परवल का रस भी सुपाच्य होंने के कारण पीते […]

अष्टांगहृदयम्

अष्टांगहृदयम् आयुर्वेदाचार्य वाग्भट द्वारा विरचित आयुर्वेद-ग्रंथ है। यह ग्रंथ भारतीय आयुर्वेदशास्त्र के बृहतत्रयी के अन्तर्गत परिगणित होती है। वाग्भट ने अष्टांगहृदयम् के अतिरिक्त अष्टांगसंग्रह नामक एक अन्य आयुर्वेद ग्रंथ की रचना भी की। जो विद्वानों […]

जलवायु परिवर्तन और भारत

ईशावास्यमिदं सर्वं यत्किञ्च जगत्यां जगत् ।तेन त्यक्तेन भुञ्जीथा मा गृधः कस्यस्विद्धनम्।।   “इस जगत् में जो कुछ है सब एक ही तत्त्व ईश्वर से व्याप्त है, अतः उनका त्याग के अनुसार भोग करें। अन्य किसी के […]

भावप्रकाश

आप वैद्यनाथ, डाबर, पतंजलि, हिमालय आदि के द्वारा तैयार की गयी आयुर्वेदिक औषधियों में प्रायः देखते होंगे लिखा होता है – भावप्रकाश के आधार पर। अर्थात् वे औषधियाँ भावप्रकाश के अनुसार तैयार की गयी होती […]